Unfulfilled dreams ( अधूरे सपने)

Will we work hard to fulfill our unfulfilled dreams? 



Come, we know about our unfulfilled dreams - we stop thinking about our dreams, we have started accepting government jobs as success only today, if there is no government job then we are all unemployed, this thinking has become our 

The same sentiment has become in our society that if a government man is the only successful person, today if we do not change this thinking, then the coming generations will stop thinking about dreams and will remain a servant of the society.



Has our society set government jobs as the yardstick of success? 



follow your dream

The dream is the one that was once seen in our childhood, but today we have forgotten to fulfill it in reality and we have lost it on the way. Will do that I do not have it, do not have it. Never complain about your situation, make your situation strong and learn to live for your dreams.






Our message to all parents - 

I appeal to all the parents to know about the dreams of their children and help them in fulfilling those dreams. Inspire them not to say that you only have to do a government job.


Teach your children to fly and motivate them to complete their dream flight only then their flight will be completed only then they will be successful.

Only then we will build a good society and our nation will progress


Our message for all youth -


All the young people of my country, you are the future generation of this nation, today the country is in your hands, why is it so behind that our India is 130 crores, then when we will come forward to make our country the best, when we will be the country of our dreams You will create that ability that you can bring change, you should not just consider government jobs as your employment, when will you fulfill your childhood dreams, what you saw

Government job means we get an opportunity to become public servants, what changes can we bring to society by that?

You should not consider dreams to be a job from 9 to 5 pm because dreams can be like that I have to become a cricketer, I have to become a scientist etc. Work hard for it and fulfill your dreams.

Come, give flight to your dreams with us and mail us for details -

BISHNOIMIRROROFFICIAL@GMAIL.COM



In Hindi - 

अधूरे सपने

क्या हम हमारे अधूरे सपने पुरे करने के लिए मेहनत करेंगे ?

आइये हम जानते है हमारे अधूरे सपनो के बारे में -हमारे सपनो के बारे में हम सोचना बंद कर हम सिर्फ आज सरकारी नौकरी को ही हम सफलता मानने लग गये है यदि सरकारी नौकरी नहीं है तो हम सब बेरोजगार है यही सोच बन गयी है हमारी
हमारे समाज में भी यही भावना बन गयी है की सरकारी नोकरी वाला ही सफल व्यक्ति है यदि आज हमें यही सोच नहीं बदली तो आने वाली वाली पीढ़ी सपनो के बारे सोचना बंद कर देंगे और समाज का ही एक नौकर बन कर रह जायेगा

क्या हमारे समाज ने सरकारी नौकरी को ही सफलता का मापदंड तय कर लिया है?

सपना वह है जो कभी हमें बचपन में देखा था पर आज हम हकीकत में उसे पूरा करना भूल गये है और रास्ते में कही खो गए है पता है जब हम अपने सपने को सच करने के लिए मेहनत करना शुरू कर देंगे तब हम कभी यह शिकायत नहीं करेंगे कि मेरे पास यह नहीं है वो नहीं है अपने हालातो से कभी शिकायत नहीं करे अपने हालात को अपनी मजबूती बनाये और अपने सपने के लिए जीना सीखिये

सभी माता पिताओं के लिए हमारा सन्देश -

में सभी माता पिताओं से यह अपील करता हूँ की अपने बच्चो के सपनो के बारे में जाने और उन सपनो को पूरा करने में उनकी सहायता करे उनको प्रेरित करे यही नहीं कहे कि तुझे सिर्फ सरकारी नौकरी करनी है

अपने बच्चों को उड़ना सिखाये तथा उनके सपनो की उड़ान को पूरा करने के लिए प्रेरित करे तभी उनकी उड़ान पूरी होगी तभी वो सफल हो पायेंगे

तभी हम एक अच्छे समाज का निर्माण कर और हमारे राष्ट्र की तरक्की होगी

सभी युवाओ के लिए हमारा सन्देश -

मेरे देश के सभी नोजवानो आप इस राष्ट्र की भावी पीढ़ी हो आज देश आपके हाथ में है फिर इतना पीछे क्यों है हमारा भारत हम 130 करोड़ है फिर कब हम हमारे देश को एक सर्व शेष्ठ बनाने के लिए आगे आएंगे,कब हम अपने सपनो का देश बनायेंगे आप में वो क्षमता है की आप बदलाव ला सकते हो आप सिर्फ सरकारी नौकरी को ही अपना रोजगार न मानो अपने बचपन के सपने कब पूरे करोगे आप जो आपने देखे
सरकारी नौकरी का मतलब हमें जनता का सेवक बनने का अवसर मिलता है हम उससे समाज में क्या बदलाव ला सकते है|
आप सपनो को 9 से 5 बजे तक वाली नौकरी न समझे क्युकी सपने उस भी हो सकते जैसे मुझे क्रिकेटर बनना है, मुझे वैज्ञानिक बनना है आदि उसके लिए मेहनत करे और अपने सपने पुरे करे|

आइये हमारे साथ अपने सपनो को उड़ान दे और जानकारी के लिए हमें मेल करे - 

BISHNOIMIRROROFFICIAL@GMAIL.COM

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां